July 1, 2022

ऋषिकेश में ‘‘गंगा दशहरा‘‘ के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत शनिवार को परमार्थ निकेतन ऋषिकेश में ‘‘गंगा दशहरा‘‘ के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में सम्मिलित हुए।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने जो नमामि गंगे और स्वच्छ भारत का संकल्प लिया है उस संकल्प को हमें हर हाल में पूरा करना है। कार्य बहुत बड़ा है लेकिन हमें निराश होने की आवश्यकता नहीं है। भारत समय पर जाग गया है। जब राईन जैसी नदी जो बहुत ही ज्यादा प्रदूषित हो गई थी, जिसमें मछलियों का प्रजनन बंद हो गया था, यूरोपियन देशों ने राइन नदी राइन की सफाई का बीड़ा उठाया और 27 वर्षों के प्रयास के बाद आज राईन नदी साफ हो चुकी है। उन्होंने कहा कि समस्या भी हम हैं और समाधान भी हम। यह समस्या हम ही ने पैदा की और इसका समाधान भी हमें ही निकालना होगा। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र और केरल में मृत हो चुकी नदियों को पुनर्जीवन दिया गया, हमें तो सिर्फ जीवित नदियों को जीवित रखना है।
मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि राज्य सरकार भी इसके लिए प्रतिबद्ध है। हमने  देहरादून की नदियों एवं ट्रेंचिंग ग्राउंड को एक एंजाइम छिड़क कर स्वच्छ करने का प्रयास शुरु किया है। और इसमें हम काफी हद तक सफल भी हुए हैं। इस एंजाइम ने ट्रेंचिंग ग्राउंड एवं नदियों में आधे घंटे में बदबू खत्म कर दी। इसे आसानी से घर में तैयार भी किया जा सकता है। इसकी लागत भी कम है।
उन्होंने प्रदेश वासियों से अनुरोध किया कि वह स्वच्छ भारत अभियान में सहयोगी बनकर राज्य एवम देश के विकास में योगदान दें।
इस अवसर पर स्वामी श्री चिदानंद सरस्वती, स्वामी श्री रामदेव जी, केन्द्रीय कैबिनेट मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, सांसद एवं अभिनेत्री श्रीमती हेमा मालिनी, अभिनेता श्री विवेक ओबेरॉय सहित सभी धर्मों के धर्म गुरु उपस्थित थे।