December 5, 2022

विकास भवन सभागार में बीस सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा बैठक

उत्तरकाशी
षुक्रवार को मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में बीस सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा बैठक हुई। उन्होने माह बार टारगेट पूरा नहीं करने वाले डी श्रेणी  वाले विभागों को अगस्त माह के अन्त तक लक्ष्य पूर्ण करने के निर्देष दिये हैं। समीक्षा बैठक में सिचाई, लघु सिचाई,समाज कल्याण, लघु उद्योग, बिद्युत, प्रधानमंत्री आवास, एवं पीएमजीसवाई, आदि विभागो को लेकर चर्चा हुई। उन्होने सिचाई विभाग को 30.5 हैक्टियर सिचन क्षमता के लक्ष्य को पूर्ण करने को लेकर नव निर्मित नहर आदि कार्यो को सितम्बर माह के अन्त तक पूरा करने के निर्देष दिये हैं। वहीं लघु सिचाई विभाग की समीक्षा के दौरान मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि विभाग के अधीन हो रहे मरम्मत कार्यो में तेजी लायें साथ ही अगस्त माह तक 25 प्रतिषत लक्ष्य पूर्ण करें। उन्होने कहा कि जिन विभागों को बीस सूत्रीय कार्यक्रम के तहत लक्ष्य प्राप्त हो चुकें हैं वे अपने-अपने विभाग से संबंधित योजनाओं के कार्यो में तेजी लायें। उन्होने सभी विभागों के कार्यालयाध्यक्षों को निर्देष दिये है कि ई-टैण्डर प्रक्रिया के तहत होने वाले कार्यो को एनआईसी से समन्व्य स्थापित कर षीघ्र निस्तारित करें। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत जिन लाभार्थियों को मकान के निर्माण के लिए पहली किस्त जारी हुई हैं, लाभार्थी के द्वारा कितना कार्य किया गया हैं कि मॉनिट्रिंग कर उन्हें दुसरी किस्त जारी करने के निर्देष दिये हैं। उन्होने उद्योग विभाग एवं समाज कल्याण विभाग को संयुक्त रूप से मा. प्रधानमंत्री जी की महत्वपूर्ण योजना ‘‘स्टैण्ड अप’’ के तहत अनु.जाति एवं जनजाति के बेरोजगार लाभार्थियों को लाभान्वित करने के निर्देष दिये हैं। योजना का प्रचार-प्रसार करने के साथ-साथ बहुउदेषीय षिविरों में भी आम जन को जानकारी देने को कहा गया है।
अपर संख्या अधिकारी सुरेष नौटियाल ने कहा कि बीस सूत्रीय कार्यक्रम के कार्यो के सत्यापन के लिए जिले में टास्क फोर्स का गठन किया गया हैं। जिसमें 6 जिला स्तरीय अधिकारी नामित किये गयें हैं। उन्होने सभी अधिकारियो से अपेक्षा की है कि विभागीय लक्ष्य प्राप्त होने पर एक प्रति अर्थ एवं संख्या को भी उपलब्ध करायी जाय।
बैठक में जिला विकास अधिकारी संजय कुमार सिंह, परियोजना निदेषक प्रकाष सिंह रावत, जिला कार्यक्रम अधिकारी मोहित चौधरी, सीवीओ प्रलंयकरनाथ, मुख्य कृशि अधिकारी महिधर सिह तोमर, सहायक निदेष बचत वीणा त्रिपाठी,अधिषासी अभियंता सिचाई पी.एस.पंवार आदि मौजूद थे।