December 9, 2022

शासकीय सम्पत्ति पर लगे पोस्टर आदि तत्काल हटवाएं अधिकारी : DM

उत्तरकाशी
जिलाधिकारी डा. आषीश कुमार श्रीवास्तव ने समस्त जिला स्तरीय, तहसील स्तरीय एवं विकास खण्ड स्तरीय अधिकारियों को निर्देष दिये कि कार्यालय/षासकीय भवनों अथवा अपनी विभागीय षासकीय सम्पत्ति पर लगे पोस्टर आदि तत्काल हटवाना सुनिष्चित करें । उन्होंने कहा कि विभिन्न जगहों पर स्थित षासकीय भवनों, षासकीय सम्पत्तियों पर लोगों द्वारा पोस्टर आदि चिपकाए जा रहे हैं, जिससे षासकीय सम्पत्ति का विरूपण हो रहा है। उन्होंने निर्देष दिये कि भविश्य में किसी भी दषा में विभागीय भवनों/ विभागीय सम्पत्तियों का विरूपण न होने दें। उन्होंने कहा कि यदि कोई षासकीय भवनों आदि पर पोस्टर आदि चिपकाते हैं तो उन्हें अपने स्तर से नोटिस जारी करे, तथा यदि कोई फिर भी उल्लंघन करता है तो सम्बन्धित के विरूद्व उत्तराखण्ड लोक सम्पत्ति विरूपण अधिनियम के अन्तर्गत कार्यवाही सुनिष्चित करें। उन्होंने निर्देष दिये कि इस कार्य में अधिकारी द्वारा लापरवाही बरती जानी पाई गई या भविश्य में किसी विभाग की सम्पत्ति का विरूपण होना पाया गया तो सम्बन्धित विभागीय अधिकारी के विरूद्व अर्थ दण्ड आरोपित कर संबंधित के वेतन से धनराषि वसूली जायेगी।
इस संबंध में आज अपर जिलाधिकारी पीएल षाह ने गोपाल मन्दिर के स्वामी सर्वेष्वर मुनी द्वारा कलक्ट्रेट परिसर की दीवार पर अपने कथा/ यज्ञ से सम्बन्धित विज्ञापन के पोटस्टर चस्पा करने पर नोटिस जारी किया । नोटिस में उन्हें सांय 05 बजे तक दीवार पर लगे पोस्टर बैनर हटाने को कहा गया है। सांय बजे तक पोस्टर बैनर न हटाने की दषा में स्वामी सर्वेष्वर मुनी से 10 हजार रू. का अर्थदण्ड के रूप में वसूला जायेगा।