November 26, 2022

उत्तरकाशी : बढ़ती सड़क दुर्घटना : DM ने दिया थानावार प्रतिमाह 20-20 चालानों का लक्ष्य

  • उत्तरकाशी

सड़क दुर्घटनाओं को कम करने को लेकर जिलाधिकारी डा. आषीश चौहान ने जनपद स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक ली। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में करीब 15 हजार छोटे-बड़े वाहन पंजीकृत है। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के उद्देष्य से वाहनों में जिला आपातकालीन परिचालन केन्द्र के दूरभाश नम्बर का स्टीकर लगाये जाए। ताकि ऐसे वाहन चालक जो षराब पीकर, तेज रफ्तार, मोबाईल फोन इत्यादि का प्रयोग करते हुए वाहन चला रहें हो के खिलाफ वाहन में बैठी सवारी षिकायत कर सकें। षराब पीकर तथा तेज रफ्तार से वाहन चलाते हुए पाए जाने पर वाहन चालक का लाईसेंस निरस्तीकरण के साथ ही कठोर कार्यवाही करने के निर्देष संबंधित अधिकारियों को दिए।
जिलाधिकारी ने गत तीन माह में हुई सड़क दुर्घटनाओं के कारणों की गहनता से समीक्षा करते हुए अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
जिलाधिकारी डा. चौहान ने परिवहन विभाग व पुलिस को यातायात नियमों का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश दिए ताकि दुर्घटनाओं को कम किया सकें। उन्होंने थानावार प्रतिमाह 20-20 चालानों का लक्ष्य देते हुए ऐस वाहन चालक जो शराब, मोबाईल फोन का इस्तेमाल, तेज रफ्तार, व बिना हैलमेंट के दोपहिए वाहन चला रहें हैं उनका चालान करने के निर्देश दिए। सरकारी तथा गैर सरकारी वाहनों के वाहन चालक को सीट बैल्ट अनिवार्य रूप से पहनने के निर्देश दिए। सीट बैल्ट नहीं पहनने वाले वाहन चालकों का चालान करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जनपद में करीब 15 हजार वाहन पंजीकृत है उन वाहनों की फिटनेस व उनके चालकों का पूर्ण बायोडाटा 26 नवम्बर तक संकलित करने के निर्देश एआरटीओ को दिए। उन्होंने सड़क दुर्घटनाओं का संज्ञान लेते हुए भविष्य में दुर्घटना स्थल पर कनेक्टिवीटी हेतु वॉकी टॉकी के साथ कमांडर तैनात रहने के निर्देश दिए जो उपर सड़क से नीचे खड्ड तक कनेक्टीविटी का कार्य करेंगे। ताकि दुर्घटनाग्रस्तों को जल्द से जल्द रेस्क्यू कर उन्हें उपचार दिया जा सकें।
बैठक में पुलिस अधीक्षक ददनपाल, सीएमओ डा. विनोद नौटियाल, उपजिलाधिकारी देवेन्द्र नेगी, पूरण सिंह राणा, अनुराग आर्य, सीओ जीएल कोहली, एआरटीओ चक्रपाणी मिश्र, जिला आपदा प्रबन्धन अधिकारी देवेन्द्र पटवाल,अधिषासी अभियंता नवनीत पाण्डेय, सहित सभी थाना प्रभारी मौजूद थे।