December 8, 2022

उत्तरकाशी : धराली के पास मार्ग अवरूद्ध, होटलों में घुसा मलवा, प्रशासन मौके को रवाना

  • उत्तरकाशी

बीती रात धराली (हर्शिल) खीरगाड़ का जलस्तर बढ़ने के कारण धराली बाजार में मलबा आने पर जिलाधिकारी डा. आषीश चौहान ने जिला आपातकालीन परिचालन केन्द्र में संबंधित अधिकारियों की एक महत्वपूर्ण बैठक लेते हुए युद्ध स्तर पर मय संसाधनों के साथ कार्य करने हेतु आवष्यक दिषा निर्देष दिए।
अल्प बैठक के उपरान्त जिलाधिकारी आपदा प्रभावित क्षेत्र के लिए रवाना हुए।
आपदा परिचालन केन्द्र मे जिलाधिकारी ने प्रभावित क्षेत्र में मय संसाधन जेसीबी,डोजर, पॉकलैंड मषीन तैनात कर कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है।  उन्होंने पीडी डीआरडीए आर.एस रावत, अधीक्षण अभियंता सिचाई को आपदा क्षेत्र के लिए नोडल अधिकारी तैनात किए। जिलाधिकारी ने आपदा उपकरणों के साथ ही कृत्रिम प्रकाष व्यवस्था हेतु आस्का लाईट, सेटेलाईट फोन आदि की  समुचित व्यवस्था करने के निर्देष संबंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने जिला पूर्ति अधिकारी को खाद्यान्न व्यवस्था,  जल संस्थान को पेयजल आपूर्ति सुचारू रखने के निर्देष दिए। बाजार में आए मलबा को हटाने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य करने एवं पुलिस,एसडीआरएफ, राजस्व विभाग की टीमें तैनात करने के भी निर्देष दिए।
उन्होंने सिचाई विभाग के अधिकारियों को नाले के दोनों ओर वायरक्रेट लगाने व घरों में मलबा निस्तारण व्यवस्था तुरन्त कराने के निर्देष दिए। उन्होंने कहा कि आपदा राहत कार्य के दौरान वर्शा पर पैनी नजर रखने हेतु वाचर लगायें जाए तथा मुख्य चिकित्साधिकारी को हर्शिल में पर्याप्त औशधी एवं चिकित्सकों को तैनात रखने के निर्देष दिए। उन्होंने कहा कि आपदा क्षेत्र में रहने हेतु सुरक्षित स्थान पर षैड तराष करें तथा आकस्मकिता पर सेना अथवा अर्द्धसैनिक बलों की भी सहायता ली जाए।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी प्रषान्त आर्य, अधिषासी अभियंता लोनिवि वीएस पुंडिर, जिला आपदा प्रबन्धन अधिकारी देवेन्द्र ।