August 10, 2022

उत्तरकाशी : धूम धाम से शुरू हुआ फेस्ट उत्तरकाशी कार्यक्रम

  • उत्तरकाशी

जिलाधिकारी डा0 आषीश चैहान के अथक प्रयास से विष्व रंगमंच दिवस के मौके पर ‘फेस्ट उत्तरकाषी’ का भव्य आयोजन किया गया।  कार्यक्रम का आयोजन जिला प्रसाशन व जिला युवा कल्याण अधिकारी विजय प्रताप भंडारी द्वारा किया गया ।उन्होने फेस्ट उत्तरकाषी के तहत जनपद के विरासतन लोक संस्कृति का संरक्षण एवं संबर्द्धन करने तथा चार धाम यात्रा एवं पर्यटन को आने वाले लोगों के लिए गंगोत्री प्रेक्षागृह में स्थानीय लोक संस्कृति एवं रंगमच की प्रस्तुती से रूबरू होने तथा जुडे कलाकारों को रोजगार से जोडने का अवसर तैयार किया।
जिला कलेक्टेªट परिसर गंगोत्री पे्रक्षागृह में विष्व रंगमंच दिवस के अवसर पर आयोजित दो दिवसीय कार्यक्रम फेस्ट उत्तरकाषी का षुभारंभ बतौर मुख्य अतिथि जिलापंचायत अध्यक्ष जषोदा राणा, एवं विषिश्ठ अतिथि जिलाधिकारी डा0 आषीश चैहान, नगर पालिका अध्यक्ष जयेन्द्री राणा एवं गणमान्य लोगों ने विधिवत दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इस मौके पर डिवाईन डानसेज आॅफ उत्तरकाषी वेबसाईड का लाॅचिंग किया गया। कार्यक्रम में उत्तरकाषी के डा0 सुवर्ण रावत, मुम्बई से आषिक हसन, नटराज हसरत मीरा, तथा जनपद के हुकम दास, बचनदास एवं भुंगर दास आदि रंगकर्मी/लोक कलाकारों को मुख्य अतिथि एवं गणमान्य व्यक्ति द्वारा सम्मानित किया गया।
प्रेक्षागृह में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए बतौर मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष जषोदा राणा ने जिलाधिकारी की प्रषंसा करते हुए कहा कि उनकी टीम के द्वारा समाज के मध्य जाकर लोक संस्कृति विरासत को संजोने एवं संबर्द्धन का काम किया है। विलुप्त हो रही संस्कृति के संवर्द्धन एवं संरक्षण के लिए उठाये गये कदम सराहनीय है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड की संस्कृति अन्य राज्यों से भिन्न है सीमान्त जनपद होने के नाते यहां के लोग देवतुल्य है।
विलुप्त हो रही संस्कृति को उच्च थियेटर पर लाने के लिए निष्चित ही कलाकारों का उत्साह बढ़ेगा। उन्होने कहा कि जनपद की वेबसाइट लांच होने से स्थानीय संस्कृति को लोग इंटर नेट के माध्यम से भी देख सकेंगे। इससे हमारी संस्कृति को देष ही नहीं अपितु विदेषी भी देख सकेंगे।
जिलाधिकारी डा. आषीश चैहान ने कहा कि आज का युवा वेस्टन कल्चर की ओर लगातार बढ़ रहा है। अपनी संस्कृति को छोड़ते हुए वेसटन कल्चर की ओर जा रहें है। कहा कि स्थानीय संस्कृति को किस प्रकार से संबर्द्धन एवं संरक्षण  किया जाए इसके लिए हमारी टीम ने कार्य किया। उन्होंने कहा कि अगली पीड़ी भी संस्कृति को समझ सके इसके लिए कार्य करने की जरूरत है। विलुप्त हो रही संस्कृति को बचाने के लिए हर सभंव कार्य करने की आवष्यकता है। कहा कि संस्कृति के संवर्द्धन के लिए कार्य कर रहें स्थानीय कलाकारों  को भी प्रोत्साहित कर उच्च रंगमंच देने की पहल की गई है। कहा कि जनपद के 17 लोक नृत्य, संस्कृति आदि को डिवाईस डान्सेज आॅफ उत्तरकाषी को वेबसाइट में अपलोड की गई है, जनपद की लोक संस्कृति को अब अन्तराश्ट्रीय स्तर पर भी अपनी अलग पहचान मिलेगी।
इस अवसर पर जिला युवा कल्याण अधिकारी विजय प्रताप भंडारी , पालिका अध्यक्ष जयेन्द्री राणा, श्रीमती अनुकृति चैहान, नगर अध्यक्ष भाजपा बालषेखर नौटियाल, भाजपा महामंत्री विजय संतरी, दुग्ध संघ अध्यक्ष सुरेन्द्र नौटियाल,जयवीर चैहान, जिला पंचायत सदस्य प्रकाष देवनाटा, मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार, पुलिस अधीक्षक ददनपाल, अपर जिलाधिकारी पीएल षाह, उपजिलाधिकारी देवेन्द्र नेगी, जिला कार्यक्रम अधिकारी मोहित चैधरी, वरिश्ठ कोशाधिकारी सुश्री हिमानी स्नेही सहित रंगकर्मी उपस्थित थे।