August 10, 2022

उत्तरकाशी : बर्फ के बीच DM ने गंगोत्री में चलाया सफाई अभियान

  • उत्तरकाशी / INDIA 121

बर्फ के बीच जिलाधिकारी डा0 आशीष चैहान ने गंगोत्री धाम परिसर में सफाई अभियान चलाया। स्वयं कूडे के ढेर के बीच उतरकर सफाई अभियान का किया नैतृत्व। सफाई अभियान के उपरांन्त जिलाधिकारी ने गंगोत्री मंदिर परिसर में उपस्थित सभी लोगों को धाम परिसर एवं गंगा को स्वच्छ रखने की षपत दिलाई।
ओएनजीसी के सौजन्य एवं स्वच्छ भारत अभियान ग्रामीण के तहत जनपद में 15 दिवसीय गंगोत्री से उत्तरकाषी तक वृहद स्वच्छता पखवाडा में जिलाधिकारी ने आज विभागीय अधिकारी, कर्मचारी, वन विभाग, पुलिस, स्वयंसेवी एवं आईटीबीपी जवानों साथ लेते हुए गंगोत्री धाम परिसर में सफाई की गई। तय कार्यक्रम के तहत गंगोत्री धाम के मुख्य द्वार में सभी लोग एकत्र हुए जहां पर जिलाधिकारी ने सफाई हेतु स्थल को चिन्हित कर सफाई अभियान षुभारंभ किया। कूडा डम्पिंग स्थल से करीब 5 ट्रक कूडा एकत्र कर निस्तारण हेतु नीचे लाया गया।
जिलाधिकारी डा0 चैहान ने कहा कि गंगोत्री धाम मानव धार्मिक आस्था के लिए पवित्र भूमि है। धाम परिसर एवं गंगा को साफ एवं स्वच्छ रखना हम सभी का कर्तव्य है। धाम की स्वच्छता से जनपद एवं देष प्रदेष वासियों के बीच स्वच्छता रखने के संदेष जायेगा। कहा कि धाम में आने वाले श्रद्धालु भी स्वच्छता के प्रति जागरूक होगें। उन्होने कहा कि गंगा की उद्धगम स्थल से ही गंगा को पवित्र बनाये रखना हम सभी का धायित्व है। हमें दृढ संकल्प के साथ अपने धायित्व का निवर्हन करना होगा की गंगा नदी में किसी भी प्रकार के पाॅलीथीन एवं कचरा नही जाना चाहिए।
15 दिवसीय वृहद स्वच्छता पखवाडा में इससे पूर्व जिलाधिकारी डा0 चैहान ने गंगनानी, उत्तरकाषी, मल्ला, भेला टिपरी, सुनगर एवं भटवाडी में सफाई अभियान चलाया। उन्होने सफाई अभियान में पहुंचे सभी लोगों को धन्यवाद देते हुए कहा कि आप सभी के दृढ संकल्प एवं लगन से स्वच्छता अभियान सफल हुए है। आगे भी स्वच्छता के प्रति जनजागरूक हेतु आप सभी के सहयोग अपेक्षित है।
इस अवसर पर उपलिलाधिकारी देवेन्द्र नेगी, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी विजेन्द्र पुरी, अ0अ0 आरएस खत्री, मंदिर समिति सचिव सुरेष सेमवाल, स्वयं सेवी नागेन्द्र दत्त थपलियाल, गजेन्द्र मटूडा, इंस्पेक्टर आईटीबीपी खेम राज, नायब तहसीलदार मंगल मोहन, उप राजस्व निरीक्षक सुरेष भट्ट, विक्रम सिह राणा, धर्मेन्द्र सिह, सहित करीब कई अधिकारी, कर्मचारी एवं पुलिस, वन व आईटीबीपी के जवान उपस्थित थे।