August 8, 2022

अपने-अपने मोबाइल फोन 24 घण्टे आॅन रखें अधिकारी : डीएम

जिलाधिकारी डा. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने उत्तराखण्ड सीमांत एवं पिछड़ा क्षेत्र विकास योजना की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि जनपद के समस्त विकास खण्डों से विभिन्न योजना के लिए प्रत्येक विकास खण्ड को 10-10 लाख की योजना को प्रस्तावित किया। उन्होंने योजना के तहत पेयजल, विद्यलाय में क्रीडा स्थल के विकास, स्कूल की छत, महिला स्वयं सहायता समूह की कैंटीन, पेयजल लाइन, सोलर हीटर, पुलिया, अल्ट्रासाउंड मशीन, विभिन्न विद्यालयों में विद्युत संयोजना, भेड़ की ऊन से संबंधित प्रशिक्षण आदि शामिल हैं। वहीं कस्तूरबागांधी बालिका आवासीय विद्यालय (रमसा) गंगटाड़ी में सोलर हीटर के लिए 4.50 लाख रू. स्वीकृत प्रस्तावित की। जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित अधिकारियों, खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिये कि अपने-अपने मोबाइल फोन 24 घण्टे आॅन रखें। यदि किसी अधिकारी को फोन स्वचआॅफ पाया जाता है तो संबंधित अधिकारी विरूद्व अनुशासनात्मक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। उन्होंने जिला पंचायतराज अधिकारी को निर्देश दिये कि परिवार रजिस्टर के आनलाइन कार्य में तेजी लाये।
उन्होंने सभी खण्ड विकास अधिकारियों के कार्यों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिये कि अपने – अपने क्षेत्र में हो रहे विकास कार्यों में तेजी लाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि अपने कार्यालय परिसर के रखरखाव एवं स्वच्छता पर विशेष ध्यान देें। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार को निर्देश दिये कि समस्त ब्लाक कार्यालयों में एलईडी टीवी स्थापित करवायें तथा टीवी में ब्लाक स्तर पर सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का निरन्तर प्रसारण करें ताकि ब्लाक स्तर पर आने वाले लोगों को योजनाओं की आसानी से जानकारी मिल सके।  उन्होंने आपदा प्रबंधन अधिकारी को निर्देश दिये कि बड़कोट में वीसी कक्ष की स्थापना करने की कार्यवाही शीघ्र करें।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डा. विनीत कुमार, जिला विकास अधिकारी संजय कुमार, प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी मेजर बचन सिंह, जिला पंचायतराज अधिकारी आरएस असवाल, जिला बेशिक शिक्षा अधिकारी आरएस रावत, परियोजना अधिकारी उरेडा मनोज कुमार, खण्ड विकास अधिकारी बीडी रतूड़ी, एसएस चैहान, बीएस राणा, डीपी डिमरी, एसएस कुमार, बीआरसी रामप्रकाश आदि उपस्थित थे।