November 26, 2022

उत्तरकाशी : धूमधाम से मनाया जायेगा हिमालय दिवस , तैयारियां शुरू

  • उत्तरकाशी INDIA 121

जिला सभागार में जिलाधिकारी डा. आषीष कुमार श्रीवास्तव ने जनपद में हिमालय दिवस (9 सितम्बर 2017) को मनाये जाने हेतु संबन्धित अधिकारी एवं हिमालय पे्रमी प्रबुद्धजन के साथ बैठक ली। उन्होने कहा कि हिमालय की सबसे बडी व्यथा हिमालय में फैलती गंदगी है, जिसके निवारण हेतु स्वच्छता के प्रति लोगों के मन में परिवर्तन लाना है।
इस बार हिमालय को स्वच्छ रखने के लिए प्रतिज्ञा लिया जायेगा। चित्रकला प्रतियोगिता में चयनीत चित्र को जनपद का पोस्टर मंे शामिल किया जायेगें। उन्होने मुख्य विकास अधिकारी विनित कुमार को आयोजित कार्यक्रम का नोडल अधिकारी बनाया।
उन्होने जनपद में 9 सितम्बर 2017 को हिमालय दिवस मनाये जाने को लेकर उपस्थित सभी लोगों से सुझाव लिया। कहा कि हिमालय दिवस में आयोजित कार्यक्रमों को निर्देष के अनुरूप ही संपादित करे सभी कार्यक्रम को गम्भीरता से ले।
उन्होने कहा कि हिमालय दिवस को प्रातः10 बजे जनपद के समस्त स्कूल, ग्रामीण क्षेत्र, बाजार में स्कूली बच्चे रैली निकालेगें। स्कूली बच्चों में कक्षा 9 से महाविद्यालय तक के बच्चे प्रतिभाग करेंगे। जिसका निर्देष उन्होने मुख्य षिक्षा अधिकारी को दिया। उन्होने कहा कि रेली में आम जनमानस भी प्रतिभाग कर सकेंगे।
राजकीय स्नातकोत्तर महा विद्यालय के आॅडोटोरियम में मध्याहन 12ः00 बजे से 2ः00 बजे तक मुख्य कार्यक्रम आयोजित की जायेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि निबंध एवं चित्रकला प्रतियोगिता का अवाॅर्ड जिला स्तर पर दिया जायेगा। उन्होेने कहा कि इस मौके पर पलायन, आजीविका एवं आपदा  विषय पर व्याख्यान होना है, जिस हेतु संबंधित क्षेत्र से बुद्धिजीवियों की सुझाव भी लिये जाये। एक छात्र तथा एक छात्रा को भी व्यख्यान हेतु तैयार करे। उन्होने षिक्षा अधिकारी को निर्देषित किया कि हिमालय दिवस पर सभी विद्यालयों में प्रथम वादन हिमालय विषय को लेकर पढाये जाय। साथ ही प्रभारी अधिकारी जिला कार्यालय/ उपजिलाधिकारी अनुराग आर्या को निदेर्षित करते हुए कहा कि हिमलाय क्षेत्र पर लघु फिल्म भी दिखाया जाय। कृषि, उद्यान एवं पषुपालन विभाग द्वारा की गई उत्कृष्ट कार्य के प्रदर्षनि लगान के निर्देष भी दिया। उन्होने कार्यक्रम में प्रबुद्धजन एवं पर्वतारोहि को भी आमंत्रण करने के निर्देष दिया।
बैठक में उन्होने कहा कि  इस बार जनपद के किसी एक गाॅव को जीरो बेस्ट के तहत कार्य किया जायेगा। जिस हेतु उन्होने मुख्य विकास अधिकारी को श्री भुवनेष्वरी महिला आश्रम के प्रबंधक से समन्यवय कर गांव चयन करने के निर्देष दिया।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी पीएल शाह, जाडी संस्थापन से द्वारिका प्रसाद सेमवाल, राधा पंवार, तरूण पर्यावरण विज्ञान से नागेन्द्र दत्त, एसबीएमए से गोपाल थपलियाल,  रेणुका समिति संदीप उनियाल, रिलाइन्स फाउण्डेसन से कमलेष गुरूरानी, अंकित काला, भूपेन्द्र बडोनी सहित संबंधित  अधिकारी  उपस्थित थे।