August 13, 2022

उत्त्तरकाशी : माघ मेला : संवेदना समूह लेकर आ रहा है “गज्जू मलारी”…आज शाम 7 बजे जरूर देखें..

  • उत्त्तरकाशी

उत्त्तरकाशी माघ मेले में संवेदना समूह के नाटक की अलग पहचान है। संवेदना समूह विगत कई वर्षों से गंगू रमोला,जीतू बगडवाल, कचड़ू आदि नाटकों से लोगों का दिल लूट रहे हैं।

इस वर्ष माघ मेले में संवेदना समूह “गज्जू मलारी”  एक नई प्रस्तुति के साथ आ रहा है। जो कहानी है गज्जू मलारी की आपको बता दें कि मोरी के दोनी भितरी को प्रेम कहानी है। गज्जू जो कि एक बकरी वाला है और मलारी दोनी के सौदान की बेटी है। दोनों के बिच जंगल मे प्यार हो जाता है। लेकिन आखिर जाती सामने आ जाती है। दोनों की प्रेम कहानी पर आधारित नाटक के लेखक संगीत निर्देशक अजय नोटियाल,निर्देशक जेपी राणा,तकनीकी निर्देशक डॉ अजीत पंवार सहित गज्जू विपिन नेगी,मलारी गंगा डोगरा,सलारी प्रियंका , मानी,मनवीर रावत, भिमु मस्तराम,मोनया सौदान राजेश जोशी।
ये प्रस्तुति (20/01/19) यानी आज शाम 7 बजे से माघ मेले पांडाल में होगी।
सांस्कृतिक व सामाजिक सरोकारों को लेकर माह मई वर्ष 2006 में संवेदना समूह अस्तित्व में आया। उत्तरकाशी नगर में संस्कृति कर्मी, पत्रकार व साहित्यकारों समेत विभिन्न सामाजिक गतिविधियों में सक्रिय लोगों का यह सामुहिक प्रयास था। साथ ही लोककलाओं और सामाजिक चेतना की गतिविधियों में रुचि रखने वाले हर आयु वर्ग के लोग भी समूह से जुडे हैं।