August 13, 2022

तहसीलदारों को मामले में तेजी लाने के निर्देश

जिलाधिकारी डा. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने जिला सभागार में राजस्व विभाग की मासिक बैठक ली। उन्होंने पुलिस केश सम्बंध में तहसीलदार, नायब तहसीलदार को मामले में तेजी लाने के निर्देश दिये। कहा कि अगली बैठक में सही रिपोर्ट दें। उन्होंने मोरी तहसीलदार को क्षेत्र में सक्रीयता से कार्य करने के निर्देश दिये कहा कि किसी भी दशा में क्षेत्र में अफीम की खेती नही चाहिए, अफीम की खेती करने वालों विरूद्व कार्यवाही अमल में लायी जाय। नियमित पुलिस के मामले में जिलाधिकारी ने पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिये कि ग्राम प्रहरी व समिति आदि के सहयोग से महिलाओं को जागरूक करें कि बाहरी लोगों के बहकावें में न आयें। उन्होंने इण्टर कालेजों में भी जागरूक अभियान चलाने एवं संबंधित उपजिलाधिकारी, तहसीलदार को जागरूक अभियान में उपस्थित रहने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने कहा कि आपदा से संबंधित मामले को प्राथमिकता के साथ तहसील स्तर पर निस्तारण करें। अनावश्यक लोगों को मुख्यालय तक न भेजें, अगर मामला जिलाधिकारी स्तर का हो तो ही मुख्यालय भेजे। उन्होंने एसडीआरएफ नियमावली के तहत ही मामले को तहसील स्तर पर ही निस्तारण करने को कहा। उन्होंने सभी उपजिलाधिकारी, तहसीलदार एवं कर्मचारियों को आपदा के दौरान सक्रियता बरतने के निर्देश दिये।  उपजिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि पहले कम क्षतिवाले विद्यालय को लें जिससे कि उसमें अधिक क्षति होने से बचा जा सके। उन्होंने राजस्व वसूली एवं पेंशन प्रकरण आदि मामलों में तेजी लाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि किसी भी दशा में क्षेत्र में अवेध खनन न हो। खनन होने की दशा में संबंधित पटवारी, लेखपाल, तहसीलदार के विरूद्व कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने आबकारी अधिकारी को निर्देश दिये कि मदिरा की दुकानों पर ओवर रेटिंग पर कार्यवाही करें। कहा कि क्षेत्र में छापामारी अभियान भी चलायें, 6 बजे के उपरान्त शराब बेचा जाना पाया जाता है तो उक्त दुकान का लाईसेंस निरस्त करने की कार्यवाही करें। उन्होंने नगरपालिका को निर्देश दिये कि कूड़ा निस्तारण एवं साफ सफाई पर विशेष ध्यान दें।
बैठक में पुलिस अधीक्षक ददनपाल, मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार, उपजिलाधिकारी देवेन्द्र सिंह, सौरभ असवाल, शैलेन्द्र नेगी जिला आबकारी अधिकारी, सहायक निदेशक बचत वीण त्रिपाठी सहित तहसीलदार, नायब तहसीलदार मौजूद थे।