August 10, 2022

UKSSSC मामला : उत्तरकाशी का भावेश देहरादून में गिरफ्तार

  • उत्तरकाशी

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग UKSSSC की भर्ती परीक्षा में हुए घपले में एसटीएफ ने अभ्यर्थियों को पेपर बेचने वाले एक और गुट का खुलासा किया है। मामले में एचएनबी मेडिकल यूनिवर्सिटी के दो आउटसोर्स कर्मचारियों को गिरफ्तार किया गया है। दोनों उपनल कर्मचारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं। दोनों पर पेपर लीक करने वाले आउटसोर्स एजेंसी के कर्मचारी जयजीत से पेपर खरीद कर उसे अभ्यर्थियों को बेचने का आरोप है।

पिछले साल दिसंबर में आयोग ने स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा में पेपर बेचने के मामले में सात आरोपी पहले ही पकड़े जा चुके हैं। आरएमएस टेक्नोलॉजी सॉल्यूशन का कर्मचारी जयजीत और उसके सहयोगी मनोज जोशी को एसटीएफ रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है। इस दौरान पता चला कि जयजीत ने आयोग से पेपर निकालकर एचएनबी मेडिकल यूनिवर्सिटी के वित्त एवं प्रशासनिक कार्यालय में उपनल से तैनात कर्मचारी दीपक चौहान निवासी भंसवाड़ी टिहरी हाल निवासी बालावाला दून को 36 लाख रुपये में बेचा। आरोप है कि दीपक ने अपने साथी कर्मचारी भावेश जगूड़ी निवासी जोगत पट्टी उत्तरकाशी हाल निवासी विद्या विहार कारगी के साथ मिलकर पेपर लीक किया। दोनों ने भर्ती परीक्षा से पहले कई अभ्यर्थियों से इसकी डील की।

इस भर्ती परीक्षा में आरोपी भावेश जगूड़ी खुद भी बैठा था। बीते साल 800 से ज्यादा पदों पर हुई भर्ती में उसकी 573वीं रैंक आई। अगर भर्ती परीक्षा में घपले का खुलासा न होता तो वह भी ज्वाइनिंग की तैयारी कर रहा होता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.