December 9, 2022

उत्तरकाशी : DM की नई पहल : माघ मेले के दौरान भागीरथी नदी में होगी जल क्रिड़ा

  • उत्तरकाशी INDIA 121

जिलाधिकारी डा. आषीश चौहान ने पर्यटन को बढ़ावा देने एवं युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए एक और अभिनव पहल की है। माघ मेले के दौरान 20 एवं 21 जनवरी को क्याकिंग एवं सलालम जल क्रिड़ा भागीरथी नदी में करायी जा रही है।
बुदवार को क्याकिंग की एक्सपर्ट की टीम ने तिलोथ मोटर पुल से जोषियाड़ा बैराज तक चार क्यार्क को नदी में उतारकर लाईव डेमो दिया। जिलाधिकारी डा. चौहान ने हरी झंडी दिखाकर क्याकिंग की एक्सपर्ट टीम को रवाना किया। उन्होने कहा कि 20 एवं 21 जनवरी को आयोजित की जा रही क्याकिंग प्रतियोगिता में 50 से ज्यादा राश्ट्रीय एवं अन्तराश्ट्रीय खिलाड़ी प्रतिभाग करेंगे। कहा कि जनपद के युवाओं की ओलंपिंक खेलों में भी रूची बड़े इसी उदेष्य से भी क्याकिंग एंव सलालम दोनों ओलोम्पिक गैम्स का आयोजन किया जा रहा है। इसी को लेकर जनपद का एक अलग से क्लब बनेगा जो युवाओं को प्रेरित करेगा। क्लब के माध्यम से युवाओं को स्वरोजगार से जुड़ने एवं सेना आदि क्षेत्र में जाने में भी युवाओं को इसका लाभ मिलेगा।
भागीरथी नदी में क्याकिंग प्रतियोगिता की रेखी कर रही एक्सपर्ट की टीम के प्रवीन सिंह रांगड़, पवन सिंह राणा, आषीश रावत, आषीश पांडे, प्रवीन सिंह रावत ने तिलोथ मोटर पुल से जोषियाड़ा बैराज तक क्याकिंग एवं सलालम के लिए अनुकूल बताया। कहा कि ओलंम्पिक गैम्स में क्याकिंग एवं सलालम प्रतियोगिता में उत्तराखण्ड लगातार 8 वर्शो से जुनियर एवं सब जुनियर प्रतियोगिता जितता आ रहा है। इस प्रतियोगिता के लिए यह जगह मुफीद है तथा जनपद में क्लब की स्थापना होने से युवा अधिक से अधिक क्याकिंग,एवं सलालम से स्वरोजगार प्राप्त कर सकतें है।
गौरतलब है कि गत माह को जिलाधिकारी डा. चौहान की नवीन पहल के तहत चिन्यालीसौड़ में भी पैरागलाइडिंग की टीम ने भी रेखी की थी। पैरागलाइडिंग के एक्सपर्ट टीम ने  चिन्यालीसौड़ को पैरागलाइडिंग के लिए मुफिद बताया था। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के साथ-साथ नौजवानों को स्वरोजगार से जोड़ने का भी प्रयास किया जा रहा है।
उसके बाद जिलाधिकारी ने तिलोथ पुल में चल रहे निर्माण कार्यो का निरीक्षण किया। कार्य धीमी गति से होने पर जिलाधिकारी ने अधिषासी अभियंता लोनिवि एवं वहां उपस्थित जेई को कड़ी फटकार लगायी। जिलाधिकारी ने उपस्थिति रजिस्टर को चैक किया जिसमें आठ मजदूरों को कार्य करते हुए दर्षाया गया था। जिलाधिकारी ने सक्त निर्देष दिये है कि दिन भर में जितना भी  पुल निर्माण का कार्य होता है उसकी विद फोटो सहित उपलब्ध कराने के निर्देष दिये। कार्य को यथा षीघ्र पूर्ण करने के निर्देष अधिषासी अभियंता लोनिवि को दिये।
इस दौरान जिला आपदा प्रबन्धन अधिकारी देवेन्द्र पटवाल, अधिषासी अभियंता लोनिवि बी.एस पुंडीर एवं प्रिंट एवं इलेक्ट्रोनिक मीडिया के प्रतिनिधि उपस्थित थे।