September 26, 2022

सरहद के उस पार भला हम क्यों जाएं , हिंद का झंडा प्यारा लगता है, आजादी के 75 वें अमृत महोत्सव में एक आल इंडिया मुशायरे का शानदार आगाज़

तसलीम आलम/सनसनी सुराग न्यूज

आजादी के 75 वें अमृत महोत्सव में एक आल इंडिया मुशायरे का आगाज़ झिंझाना की सरजमी पर बीती देर रात किया गया,जो आज सुबह तीन बजे तक चला। मुशायरा पूरी तरह हिंदू मुस्लिम एकता, भाईचारा और गंगा यमुना की तहजीब से सरोवार रहा। मुशायरे में हिंदू मुस्लिम हजरात का पूरे दिलों से फूल वाला और उपहार देकर सम्मानित किया गया।

 

रात करीब 11:30 बजे शमा रोशन से जलसे की शुरुआत हुई । सबसे पहले उन 25 बच्चों को शाल,
ळ फूल माला आदि धार्मिक प्रपत्रों से नवाजा गया, जिन्होंने मदरसे के अंदर अपनी कुरान हाफिज किया है। लखनऊ जर्नलिस्ट एसोसिएशन प्रदेश उपाध्यक्ष खुर्शीद आलम की ओर से भी इन बच्चों को और झिंझाना मोहन सरोवर गुरुकुल के बच्चों को भी सम्मान से नवाजा गया। झिंझाना चेयरमैन नौशाद ठेकेदार को सदारत और गुलजार देवबंदी के हाथों संचालन की डोर सौंपी गई ।
वसीम झिंझानवीं के नाते पाक से शुरुआत हुई

 

 

हिंदू मुस्लिम का ये प्यार दुलारा लगता है, हमको तिरंगा जान से प्यारा लगता है।। सरहद के उस पार भला हम क्यों जाएं , हिंद का झंडा प्यारा लगता है।।
खतौली निवासी अमजद ने कहा..
लहू जब तक रगों में है हमारी तिरंगा यूं ही लहराता रहेगा।
मंडावली निवासी राजेश ने जन्मभूमि के लिए गर्व से कहा- हम बेटे हैं किसान के, धरती के लाल हैं। जो सच्चे देशभक्त है हम वह किसान हैं।।

 

 

अख्तर इलाहाबादी ने आपसी भाईचारे और वतन के प्रति इस तरह तरजीह दी
मेरे हाथों में दम दम हो, मेरे हाथ में गंगा हो। दोबारा फिर कभी हिंदू-मुस्लिम का दंगा न हो।। वतन का बच्चा-बच्चा दिल में हिंदुस्तान रखता है
माता-पिता के सम्मान में किरतपुर के शाहिद सहुफ की लाइने.. मां को बिस्तर पर छोड़कर जा सकते हो तो फिर तुम्हें हक है कि घर छोड़कर जा सकते हो।

 

 

 

 

मुशायरे में हैदर, अब्दुल माजिद, उत्तराखंड के माधोपुर से साहिल, फाजिल, जुनैद अख्तर, नवाजिश खान, इगलासपुर के मुरसलीन ने अपनी गजलें और शायरी से महफिल को नवाजा। जश्न ए आजादी पर मुशायरे का आयोजन वसीम झिंझानवीं की ओर से किया गया। और पत्रकार साथियों को भी लखनऊ जर्नलिस्ट एसोसिएशन प्रदेश उपाध्यक्ष वरिष्ठ पत्रकार खुर्शीद आलम, की ओर से एक मेडल देकर सम्मानित किया

 

 

 

उपस्थित रहे सलेकचंद वर्मा, तसलीम आलम, नसीम आलम, विशिष्ट अतिथि राकेश गोयल, व्यापार मंडल के नगर अध्यक्ष विनोद संगल, जिला पंचायत सदस्य अजीम खान, जमीयत यूथ क्लब शामली के अध्यक्ष मौलाना वाशिल, जमीयत उलेमा हिंद के कस्बा महासचिव कारी इरशाद, जमीअत उलमा हिंद के कस्बा सचिव हाफिज अयूब, आदि मेहमानों का जोर शोर से खैर मकदम किया गया। इस मौके पर दूरदराज गांवों से भी श्रोतागण पहुंचे थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.