August 13, 2022

उत्तरकाशी : आपदा के बाद चारधाम यात्रा फिर पटरी पर, 05 KM चढाई चढ़ कर माँ यमुना के दरबार पहुँच रहे श्रद्धालु

  • उत्तरकाशी # INDIA 121
2013 की भीषण आपदा के बाद चारधाम यात्रा में पड़े असर के बाद अब यात्रा पूरी तरह पटरी में आ चुकी है, चारो धामों के कपाट खुलते ही अब श्रधालुओ की आस्था धामों के प्रति देखते ही बन रही है, रोजाना श्रधालुओ के आंकड़े बढ़ते ही जा रहे है, उत्तरकाशी जिले में स्थित यमुनोत्री और गंगोत्री धाम में अब तक कुल 61 हजार 858 श्रद्धालु पहुंचकर पुण्य के भागी बन चुके है जिसमे अकेले यमुनोत्री धाम में अब तक कुल 33 हजार 134 श्रद्धालु पहुँच चुके ही जबकि गंगोत्री में 28 हजार 724 श्रद्धालु दर्शन कर चुके है।
 यमुनोत्री धाम में पहुँचने में भले 05 किलोमीटर खड़ी चढाई चढ़ कर माँ यमुने के दरबार में पहुंचना होता है लेकिन इस पैदल मार्ग को पार करने में बुजुर्ग श्रद्धालु भी पीछे नही हट रहे है और बढ़ चढ़ कर बड़ी तादाद में दर्शन करने को पहुँच रहे है, रोजाना के आंकड़ो में नजर दौडाए तो हर दिन 50 वर्ष पार कर चुके श्रधालुओ में करीब 2000 पुरुष और महिला यात्री यमुनोत्री धा पहुँच रहे है जो धाम में पहुँच कर अपने आप को भाग्यावान भी मान रहे है।
चारधाम यात्रा में यमुनोत्री धाम से यात्रा की शुरुआत मानी जाती है लिहाजा श्रधालुओ की हरेक दिन बढती तादात आने वाले समय में बेहतर यात्रा के अच्छे संकेत भी माने जा रहे है, अगर आप भी चारधाम यात्रा में आने का मन बना रहे हो तो फिर देर मत कीजिएगा क्योंकि मई माह का महिना यात्रा के लिहाज से सबसे सुविधाजनक और उपयुक्त महीना माना जाता है।