वैश्विक निवेशक सम्मेलन के दौरान हाउस ऑफ हिमालयाज की लांचिंग, होंगे ये फायदे…

उत्तराखंड को पीएम मोदी ने आज बड़ी सौगात दी है। पीएम ने शुक्रवार को वैश्विक निवेशक सम्मेलन के दौरान हाउस ऑफ हिमालयाज की लांचिंग की है। जिससे अब प्रदेश के सभी उत्पादों को नई पहचान मिल सकेगी। सभी उत्पाद अब हाउस ऑफ हिमालयाज के नाम से पहचाने जाएंगे। साथ ही इससे अब , इससे उत्पाद निर्माताओं की कमाई में भी इजाफा होगा। आइए जानते है इसके बारे में

मिली जानकारी के अनुसार पीएम मोदी ने आज देहरादून एफआरआई में आयोजित हो रहे ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2023 में  शिरकत की है। इस दौरान पीएम ने जहां समिट का शुभारंभ किया है तो वहीं समिट में प्रदेश को कई बड़ी सौगात दी है। इतना ही नहीं उन्होंने प्रदेश के उत्पादों को दुनियाभर में पहचान दिलाने के लिए हाउस ऑफ हिमालयाज का नाम दिया है। पीएम ने आज हाउस ऑफ हिमालयाज  लॉन्च किया है। अभी तक हिमाद्री, हिलांस, ग्राम्यश्री जैसे तमाम उत्पाद अलग-अलग नाम से बाजार में जाते हैं, लेकिन अब अब हाउस ऑफ हिमालयाज उत्तराखंड का ब्रांड होगा।

बताया जा रहा है कि फरवरी में धामी कैबिनेट ने एक निर्णय लिया था कि प्रदेश के सभी उत्पादों की क्वालिटी, मार्केटिंग व ब्रांडिंग के लिए समिति का गठन किया जाए। इस आधार पर एक समिति का गठन किया गया। इस समिति ने हाउस ऑफ हिमालयाज नाम पर मुहर लगाई। इस नाम का रजिस्ट्रेशन करा दिया गया है। ट्रेडमार्क के लिए आवेदन भी किया गया। पीएम ने आज इसे लॉन्च भी कर दिया है। इसके तहत हिमाद्री, हिलांस समेत तमाम समितियों, स्वयं सहायता समूहों के उत्पादों को इसी ब्रांड नाम के साथ बाजार में उतारा जाएगा। इससे न केवल राष्ट्रीय, बल्कि भविष्य में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी उत्पादों को बेहतर बाजार मिलेगा।

बताया जा रहा है कि जैसे टाटा या अन्य कंपनियों का एक नाम चलता है और विभिन्न उत्पाद बाजार में आते हैं। उसी तरह हाउस ऑफ हिमालयाज उत्तराखंड का ब्रांड नाम हो गया है। अब उत्तराखंड के उत्पादों में इसी ब्रांड का नाम चलेगा। इससे सभी उत्पादों की अपनी पहचान के साथ हाउस ऑफ हिमालयाज का टैग उनके साथ रहेगा। जिससे उत्तराखंड के उत्पादों की बाहरी उपभोक्ताओं के सामने भी एक स्थापित पहचान बनेगी। उत्पादों को संबंधित विभागों से मदद पूर्व की भांति जारी रहेगी, लेकिन नाम एक ही रहेगा।

Leave a Reply