Crime: नीलकंठ मार्ग पर महिला की हत्या करने वाले तीन आरोपी हरियाणा से गिरफ्तार…

पौड़ी पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है, पौड़ी एसएसपी ने खुलासा करते हुए बताया कि पौड़ी पुलिस ने एक महिला की हत्या की घटना में तीन हथियारों को गिरफ्तार किया है। वहीं आपको बताते चलें की उत्तराखंड का ऋषिकेश पर्यटकों के बीच एक पॉपुलर स्पॉट है। भारत समेत दुनियाभर से लोग यहां घूमने आते हैं। वहीं हरियाणा से भी यहां कुछ लोग घूमने आए थे लेकिन यहां उन्होंने एक हत्या को अंजाम दे दिया। रिपोर्ट्स के अनुसार हरियाणा से घूमने आए कुछ लोगों ने यहां एक महिला को मौत के घाट उतार दिया।

बीते सोमवार को नीलकंठ के रास्ते पर झाड़ियों में एक महिला का शव मिला था। पुलिस को इसकी जानकारी मिली तो उसने छानबीन शुरू की। मामले में पुलिस ने हरियाणा से 2 महिलाओं और एक शख्स को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार इन्होंने गला घोटकर महिला की जान ले ली थी। पुलिस ने महज 24 घंटे के अंदर केस सुलझा लिया।

नीलकंठ के रास्ते पर मिला था शव रिपोर्ट्स के अनुसार सोमवार को नीलकंठ मार्ग पर झाड़ियों में एक अज्ञात महिला का शव मिला था। उसके गले में दुपट्टा बंधा हुआ था। मृतका की पहचान अनीता देवी पत्नी उमेश यादव निवासी करमपुर थाना तीसली जिला गिरीडिह झारखंड के रूप में हुई है। उसकी उम्र करीब 28 वर्ष थी। वहीं, उसकी हत्या करने वालों की पहचान ओमवीर, ममता और बबीता देवी के रूप में हुई है।

पुलिस को पूछताछ में पता चला कि बबीता के पति रंजीत के अनीता के साथ अवैध संबंध थे। इसके चलते वह बबीता के साथ अक्सर मारपीट किया करता था। इससे बबीता और उसकी ननद ममता काफी परेशान रहती थीं। ममता गुरुग्राम में घरों में खाना बनाने का काम किया करती थी। इनमें से एक घर में ओमवीर ड्राइवर की नौकरी करता था। ओमवीर के ममता के साथ संबंध थे।

इस तरह बना हत्या करने का प्लान
उसने ये परेशानी ओमवीर को बताई। इसके बात दीनों ने अनीता की जान लेने की साजिश रची। इसके तहत ममता ने पहले अपने भाई रणजीत, भाभी बबीता और मृतका अनीता व बच्चों को अपने पास सेक्टर 15 गुरुग्राम अपने पास बुलाया और फिर ऋषिकेश नीलकंठ दर्शन का प्लान बनाया। ओमवीर ने अपने पड़ोसी अशोक से गाड़ी मांग ली। अशोक भी उनके साथ ऋषिकेश गया था। अशोक अपने ड्राईवर अमित के साथ इनको लेकर ऋषिकेश आया और इन चारों को जानकीपुल पार्किंग में छोड़ दिया। ये दोनों जानकी पुल के पास ही रुक गए और स्नान आदि किया। नीलकंठ दर्शन के पश्चात वापसी में पैदल मार्ग पर बबीता, ममता और ओमवीर ने अनीता की गला घोटकर हत्या कर दी और शव को झाड़ियों में फेंक दिया। पुलिस ने इन तीनों को हरियाणा से धरा है।

Leave a Reply