उत्त्तरकाशी : सरकार जनता के द्वार कार्यक्रम में आम जनता को मिल रहा है,जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ

  • उत्त्तरकाशी

मुख्यमंत्री की प्राथमिकताओं में शामिल “सरकार जनता के द्वार” कार्यक्रम के तहत मोरी प्रखंड के सुदूरवर्ती गांव देवती में जिला सूचना अधिकारी सुरेश कुमार ने क्षेत्रीय अधिकारियों के साथ ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं। मंगलवार को दूरस्थ देवती गांव पहुंचे जिला सूचना अधिकारी ने मंदिर परिसर में चौपाल लगाकर देर सांय तक ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं।

सरकार जनता के द्वार कार्यक्रम में ग्रामीणों द्वारा पीएमजीएसवाई सड़क मार्ग सरास के किमी 10 से देवती देवन तपस्थली तक गांव को सड़क मार्ग से जोड़ने की मांग प्रमुखता से रखी। उन्होंने बताया कि केंद्र से फारेस्ट क्लियरेंस को लेकर आपत्ति लगी है। जिसका निस्तारण पीडब्ल्यूडी व वन विभाग द्वारा किया जाना है। लेकिन आपत्ति का निस्तारण वर्तमान तक नही हुआ है। ग्रामीणों द्वारा शीघ्र ही वन भूमि हस्तांतरण की कार्रवाई की मांग की। ताकि गांव को सड़क मार्ग से जोड़ा जा सके। इसके अतिरिक्त प्रधानमंत्री आवास, राशन कार्ड,सिंचाई नहर, पैदल मार्ग,सार्वजनिक शौचालय निर्मित कराने की भी मांग रखी गई। साथ ही शिशुओं के टीकाकरण को लेकर महीने में एक बार एएनएम को गांव में भेजे जाने की भी मांग रखी गई।

जिला सूचना अधिकारी ने कहा कि सरकार जनता के द्वार कार्यक्रम का लाभ आमजनमानस को मिल रहा है। जहां ग्रामीणों की छोटी-छोटी समस्याओं का समाधान क्षेत्रीय अधिकारियों की मौजूदगी में गांव में ही किया जा रहा है। वहीं सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी भी ग्रामीणों को प्रदान की जा रही है। उन्होंने कहा कि चौपाल में जो भी समस्या ग्रामीणों द्वारा उजागर की है,उन सभी का समाधान हेतु रिपोर्ट तैयार कर नोडल अधिकारी को सौंपी जाएगी।

उल्लेखनीय है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री की प्राथमिकताओं में सम्मिलित “सरकार जनता के द्वार” कार्यक्रम के तहत जनपद स्तरीय अधिकारी गांव में रात्रि चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्या सुन रहें है। इस परिपेक्ष्य में डीएम अभिषेक रुहेला ने रोस्टर के आधार पर अधिकारियों को ग्रामीण जनता की समस्याओं का निराकरण ग्राम स्तर पर ही करने औऱ समस्त विभागों के विकासपरक कार्यो एवं जनकल्याणकारी योजनाओं का स्थलीय निरीक्षण कर समस्याओं का निस्तारण करने के आदेश जारी किए है। वर्तमान तक अधिकांश जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा गांवों का भ्रमण कर ग्रामीणों की समस्या सुनीं है,जिसकी रिपोर्ट नोडल अधिकारी को सौंपी गई है।

इस दौरान चौपाल में पूर्व ग्राम प्रधान जनक सिंह रावत, उमेश,गीता देवी,रमेशी, संतोषी, टीकम,बबलू,जगदीश,सैन सिंह,चरणदास,विक्रम सजवाण,साहिल,अंकित,विनीत, सुशील,बिट्टू, ग्राम पंचायत विकास अधिकारी सतवीर सिंह,ग्राम्य विकास अधिकारी गोपाल सिंह राणा,आशा कार्यकत्री कल्पना समेत अन्य ग्रामीण उपस्थित रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *