जनता मिलन कार्यक्रम में जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने सुनी समस्याएं, अधिकारियों को दिए ये निर्देश…

Spread the love

Tehri News: जिलाधिकारी मयूर दीक्षित द्वारा सोमवार को जनता मिलन कार्यक्रम में दर्ज शिकायत/ अनुरोध पत्रों के माध्यम से जनता की समस्याएं सुनी गई। इस मौके पर 32 शिकायतें/अनुरोध पत्र दर्ज किये गए, जो पुर्नवास, लोनिवि, पीएमजीएसवाई, पेयजल निगम, जल संस्थान, विद्युत, पर्यटन, समाज कल्याण, वन विभाग, आदि विभागों से संबंधित रही। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी अधिकारी जनता मिलन कार्यक्रम, सीएम हेल्पलाइन, तहसील दिवस, सरकार जनता के द्वार आदि अन्य कार्यक्रमों में दर्ज शिकायतों को गम्भीरता से लेते हुए समयान्तर्गत निस्तारित करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने कहा सीएम हेल्पलाइन पर दर्ज जिन विभागों के 15 दिन से अधिक के प्रकरण लम्बित हैं, उन्हें संबंधित से वार्ता कर तत्काल निस्तारित कर जीरो करना सुनिश्चित करें।

जनता मिलन कार्यक्रम में ग्राम घोडपुर के बलबीर सिंह नेगी ने प्राथमिक पाठशाला एवं पोलिंग बूथ डांगी घोडपुर के क्षतिग्रस्त शौचालय गड्ढा एवं आंगन को ठीक करवाने का अनुरोध किया गया, जिस पर जिलाधिकारी ने डीईओ बेसिक को तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। ग्राम जसपुर पोस्ट कण्डीसौड़ निवासी पीताम्बर दत्त नौटियाल ने छाम बाजार मुख्य सड़क मार्ग पर स्थित अपने मकान के टिहरी बांध में डूबने के चलते भूखण्ड आंवटन करने तथा ब्लॉक रोड़ चम्बा टिहरी निवासी दिग्विजय सिंह राणा ने दिग्विजय कन्स्ट्रक्शन कम्पनी के लिए आंवटित पुराना दरबार वार्ड सं. 2 में अवशेष भूमि मुआवजा दिये जाने की मांग की गई, जिस पर अधिशासी अभियन्ता पुर्नवास खण्ड नई टिहरी को आवश्यक कार्यवाही कर सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये। इसके साथ ही ग्राम पंचायत पिपोला ढुंग को मुख्य सड़क मार्ग से जोड़ने, धारकोट में नया राजकीय अन्न भण्डारण के मोटर मार्ग पर डामरीकरण करने, ग्राम मौजफ पट्टी लोण निवासी अरविन्द सिंह ने वर्षात् से क्षतिग्रस्त मकान का मुआवजा पर्याप्त न मिलने तथा मकान की जांच करने की अपेक्षा की गई, संबंधित अधिकारियों को प्रकरणों को समयान्तर्गत निस्तारित करने के निर्देश दिये गये।

जिलाधिकारी मयूर दीक्षित द्वारा सोमवार को जिला सभागार नई टिहरी में आयोजित बैठक में समस्त अधिकारियों को अपने कार्यालयों में आगन्तुकों के बैठने हेतु प्रतीक्षालय कक्ष बनाने के निर्देश दिये गये।बैठक में जिलाधिकारी ने सीएम हेल्पलाइन पर दर्ज शिकायते, 30 सूत्रीय कार्यक्रम, खनन, सार्वजनिक सम्पत्ति को नागरिकों द्वारा उपयोग हेतु उपलब्ध कराये जाने, जिला सेक्टर, राज्य सैक्टर एवं पोषित योजनाओं के अन्तर्गत आवंटित बजट के सापेक्ष व्यय आदि अन्य कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए प्रगति की जानकारी ली गई। धनोल्टी तहसील परिसर में स्थित पार्किंग को नागरिकों के उपयोग हेतु उपलब्ध कराये जाने हेतु जिला स्तरीय समिति द्वारा अनुमोदित कर दिया गया है। पार्किंग से प्राप्त धनराशि हेतु एकाउन्ट खोला जायेगा, जिसमें से 25 प्रतिशत धनराशि का उपयोग तहसील करेगी, 25 प्रतिशत जिला स्तरीय खाते में जमा होगी तथा 50 प्रतिशत शासन को उपलब्ध कराई जायेगी।

जिलाधिकारी ने एसडीएम धनोल्टी को पार्किंग में सीसी टीवी कैमरे लगाने एवं पार्किंग शुल्क निर्धारित करने के निर्देश दिये गये। जिलाधिकारी द्वारा अवैध खनन का लेकर सभी संबंधित एसडीएम को क्रेशर, भण्डारण, पट्टा, रेलवे साइट आदि पर सख्ती से निरीक्षण कर चालान बढ़ाने के निर्देश दिये गये। इस मौके पर सीएओ अभिलाषा भट्ट, सीवीओ आशुतोष जोशी, एसडीएम टिहरी संदीप कुमार, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी योगेन्द्र कुमार, डीएचओ पी.के. वर्मा, मत्स्य अधिकारी गरीमा मिश्रा, डीओ पीआरडी पंकज तिवारी, एडीआईओ सूचना भजनी भण्डारी सहित लोनिवि, पेयजल निगम, जल संस्थान, लघु सिंचाई, सिंचाई के अधिकारी एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *