देहरादून में तेजी से फैल रहा आई फ्लू का संक्रमण, जानें लक्षण और बचाव…

बरसात का मौसम अपने साथ कई बीमारियों को भी लेकर आता है। क्योंकि इस मौसम में सबसे ज्यादा बैक्टीरिया पनपते हैं। जहां एक तरफ लोग बाढ़ और बारिश से परेशान हैं, वहीं, दूसरी तरफ बीमारियां भी घेर रही हैं। जहां डेंगू चिकनगुनिया के मामले सामने आ रहे हैं तो वहीं अब उत्तराखंड के देहरादून में आई फ्लू का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। स्कूली बच्चे भी इसकी चपेट में आ रहे हैं।  ऐसे में लोगों से इसके बचाव की अपील की गई है।

मिली जानकारी के अनुसार देहरादून में एक दिन में आइफ्लू के 200 के करीब मामले सामने आए है। ये फैलने वाला संक्रमण है। ऐसे में इससे बचाव जरूरी है। आंखों से जुड़ी यह परेशान होने पर आंखें लाल हो जाती हैं। आंखों में पानी आने के साथ ही जलन होने लगती है। इस परेशानी के शुरुआत में पलकों पर पीला और चिपचिपा तरल जमा होने लगता है। आंखों में अजीब तरह की चुभन और सूजन आ जाती है। आंखों से पानी आने के साथ खुजली शुरू हो जाती है। बता दें कि, यदि इन्फेक्शन गहरा हो जाए तो आंखों की कार्निया तक को नुकसान हो सकता है।

आई फ्लू से बचने के उपाय

  1. आई फ्लू से राहत पाने के लिए डॉक्टर की सलाह से एंटिबाइटिकल मरहम और ल्यूब्रिकेटिंग आई ड्रॉप ले सकते हैं।
  2. आंख आने पर नियमित अपने हाथ को हैंडवॉश से साफ करते रहें।
  3. आई फ्लू होने पर अपनी आंखों को बीच-बीच में धोते रहना चाहिए।
  4. संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें।
  5. आंखों पर बर्फ से सिंकाई करें, ताकि जलन और दर्द से राहत मिल सके।
  6. आई फ्लू से संक्रमित व्यक्ति से हाथ मिलाने से बचें।
  7. संक्रमित की चीजें- चश्मा, तौलिया या तकिया के इस्तेमाल से बचें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *