उत्तराखंडः बेटे की खबर सुन बूढ़ी मां के भी निकले प्राण, परिवार में मचा कोहराम…

उत्तराखंड में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुन हर कोई सकते में आ गया है। जिसने मंजर देखा वो अपने आंसू रोक नहीं पाया।  मामला हरिद्वार के रूड़की का है। यहां एक युवक की बुखार से मौत हो गई । बेटे की खबर जब वृद्ध मां को मिली तो बेटे के गम में उनकी भी सांसे थम गईं। कुछ ही पलों में मां-बेटे की मौत से घर में कोहराम मच गया। जब मां-बेटे की चिताएं एक साथ जलीं तो हर किसी की आंखें नम हो गईं।

मिली जानकारी के अनुसार मामला रुड़की बेहडेकी सैदाबाद गांव का है। बताया जा रहा है कि यहां संदीप कुमार (34) पुत्र नोम्मा सिंह परिवहन पुलिस में तैनात थे। वह पिछले कुछ दिनों से बुखार से पीड़ित चल रहे थे। संदीप की हालत बिगड़ते देख उन्हें देहरादून के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। परिजनों ने बेटे की मौत की खबर बूढ़ी मां करेशनी देवी (70) को नहीं दी। लेकिन जब बेटे के शव को अंतिम संस्कार के लिए घर लाए तो मां बेटे की मौत का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाई और कुछ ही देर में प्राण त्याग दिए। जिससे मौके पर कोहराम मच गया।

बताया जा रहा है कि परिवार में मां और बेटे की एक साथ मौत की खबर मिलते ही गांव में मातम छा गया। इससे पूर्व भी बेहडेकी गांव में संदिग्ध बुखार से दो मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गांव में आकर बुखार से पीड़ित लोगों के खून के नमूने लिए थे। इस समय भी गांव में छह लोग डेंगू से पीड़ित बताए जा रहे हैं। उनका उपचार निजी नर्सिंग होम में चल रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *