डेंगू न होने पर भी मरीजों को चढ़ानी पड़ रही प्लेटलेट्स, इलाज हो रहा महंगा…

देहरादून में डेंगू के लक्षणों वाले मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। बढ़ते मामलों के बीच एक हफ्ते के भीतर प्लेटलेट्स की डिमांड दोगुनी हो गई है। डेंगू पॉजिटिव न होने के बाद भी मरीजों को प्लेटलेट्स चढ़ाने की जरूरत पड़ रही है। ऐसे में सरकारी अस्पताल में भी अब डेंगू का इलाज महंगा हो गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार गुरुवार को जिलेभर में एक दिन में 984 मरीजों की एलाइजा जांच कराई गई। उधर, गुरुवार को पांच नए केस भी सामने आए। दून में डेंगू के ब्लड बैंकों पर क्षमता से ज्यादा दबाव बढ़ गया है। प्लेटलेट्स की मांग है। सिंगल डोनर से प्लेटलेट्स का जंबो पैक बनाने के लिए किट का इस्तेमाल किया जाता है।

बताया जा रहा है कि प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में डेंगू मरीजों को सिंगल डोनर प्लेटलेट्स (जंबो पैक) के लिए नौ हजार रुपये देने पड़ रहे हैं। जबकि निजी अस्पतालों में मरीजों से 12 हजार रुपये की राशि ली जा रही है। डेंगू के मामले बढ़ने से सिंगल डोनर प्लेटलेट्स की मांग बढ़ रही है। हालांकि आयुष्मान कार्ड पर भर्ती मरीजों के लिए निशुल्क सुविधा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *