उत्तराखंड का जवान सीमा पर शहीद, दो माह पूर्व बीमारी से पत्नी का हुआ था निधन

उत्तराखंड का एक और लाल देश के लिए शहीद हो गया है। जानकारी के अनुसार पिथौरागढ़ जिले के तहसील गंगोलीहाट निवासी जवान दीपक सिंह सुगड़ा की बुधवार देर रात जम्मू कश्मीर में गोली लगने से मौत हो गई। बताते चलें कि जवान की पत्नी का भी दो माह पूर्व बीमारी से निधन हो गया था, जिसके बाद से वह एक वर्षीय मासूम बेटे दीवान की परवरिश को लेकर काफी परेशान था।

वह वर्ष 2015 में सेना में भर्ती हुए थे। नायक दीपक सिंह की इंटर तक की पढ़ाई चौरपाल से हुई थी। जानकारी के अनुसार दीपक दो बार पैरा स्पेशल कमांडो की ट्रेनिंग ले चुके हैं लेकिन पैर में चोट आने के कारण उन्हें वापस यूनिट भेज दिया गया। दीपक सिंह का एक साल का बेटा अपनी दादी के साथ गांव में रहता है जिसका वह पांच दिन पहले जन्मदिन मनाकर ड्यूटी पर गए थे। उस समय दीपक ने बेटे और पत्नी की फाइल फोटो को सोशल मीडिया पर शेयर किया था।

दीपक सिंह के पिता मोहन सिंह की चार साल पहले मौत हो चुकी है। उनके दो भाई अनिल सिंह सुगड़ा और गोकुल सिंह सुगड़ा दिल्ली में प्राइवेट नौकरी करते हैं। वर्ष 2015 में दीपक के सेना में भर्ती होने पर पूरे परिवार ने जश्न मनाया था। दीपक सिंह के मौत की सूचना अभी उनकी माता कौशुली देवी (54) को नहीं दी गई है।

एडीएम पिथौरागढ़ डॉ. शिव कुमार बर्नवाल ने कहा कि सैनिक दीपक सिंह सुगड़ा की मौत की सूचना ग्राम प्रधान की ओर दी गई है। अभी तक सेना की ओर से इस तरह की कोई जानकारी नहीं आई है। किन कारणों से जवान की मौत हुई इसका भी पता नहीं लग पाया है। उम्मीद जताई जा रही है कि शहीद का पार्थिव शरीर आज पिथौरागढ़ पहुंच सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *