उत्तरकाशी : एस0पी0 ने कोतवाली उत्तरकाशी पर किया जनसंवाद/थाना दिवस का आयोजन, कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस का सहयोग करने वाले 05 डिजिटल वॉलिंटियर को किया सम्मानित

जनता और पुलिस के मध्य बेहतर सामंजस्य स्थापित करने, पब्लिक फ्रैंडली पुलिसिंग एवं आमजनता की पुलिस से सम्बन्धित समस्याओं के तुरन्त निस्तारण हेतु पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी अर्पण यदुवंशी द्वारा आज मंगलवार को कोतवाली उत्तरकाशी पर जनसंवाद/थाना दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में उनके द्वारा जनता से सीधे संवाद कर उनकी शिकायत व समस्याओं को सुना गया, बेहतर पुलिसिंग हेतु सभी जनता के गणमान्य लोगों एवं पत्रकार बन्धुओं से सुझाव लिए गये। लोगों द्वारा उत्तरकाशी पुलिस की नशे के खिलाफ चलायी जा रही मुहिम “उदयन” की प्रशंसा करते हुये एस0पी0 से उत्तरकाशी में नशे को जड़ से खत्म करने की अपील की गई। साथ ही शहर में ट्रैफिक से सम्बन्धित समस्याओं से भी अवगत कराया गया।

युवा पीढी में बढ रहे नशे के कुप्रचलन पर चिंता जाहिर करते हुये एस0पी0 उत्तरकाशी द्वारा बताया गया कि नशे के खिलाफ उत्तरकाशी पुलिस बेहद गम्भीर है, हमारी पुलिस टीम अवैध नशे के कारोबारियों पर लगातार नकेल कस रही है, पिछले करीब 01 साल से हमारे जनपद में NDPS Act के 34 मामलों में 47 तस्करों को गिरफ्तार किया गया है, जिसमें लगभग 17 किलों चरस, 210 ग्राम स्मैक तथा 3 किलो अफीम की बरामदगी तथा आबकारी अधिनियम के अंतर्गत 51 मामलों में 62 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिनसे करीब 144 पेटी अंग्रेजी शराब, 150 लीटर कच्ची शराब व 17 पेटी बीयर की बरामद की गयी हैं। पुलिस द्वारा नशे के दुष्प्रभाव के प्रति लगातार जनजागरुकता अभियान भी चलाए जा रहे हैं, अब तक जनपद में 82% छात्र/छात्राओं व 73% जनता के लोगों को जागरुक किया जा चुका है। नशे के खिलाफ इस जंग में उनके द्वारा आमजन से सहयोग करने का आह्वान किया गया। उनके द्वारा बताया गया कि जो नशे के खिलाफ आगे आएंगे ऐसे लोगों को लगातार प्रोत्साहित व सम्मानित किया जायेगा।

कार्यक्रम में सी0ओ0 ऑपरेशन प्रशान्त कुमार द्वारा सभी को साइबर अपराधों व ऑनलाइन फ्रॉड जैसे- साइबर स्टॉकिंग, साइबर बुलिंग, फेक कॉल, मैसेज मेल, वॉइस क्लोलिंग आदि के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देकर बताया गया कि पिछले करीब 01 साल में उत्तरकाशी पुलिस द्वारा साइबर ठगी के 12 मामलों में करीब 07 लाख रु0 की धनराशि पीडितों को वापस करायी जा चुकी है, जबकि करीब 14 लाख कीमत के 95 खोये मोबाईल फोन को ढूंढा गया है। सभी को सचेत कर उनके द्वारा बताया गया कि जनजागरुकता ही साइबर अपराधों का बचाव है, यदि किसी के साथ साइबर/वित्तीय ठगी हो जाती है, तो तुरन्त साइबर हेल्पलाइन नम्बर 1930 पर कॉल करें।

कार्यक्रम के दौरान एस0पी0 द्वारा कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस का सहयोग करने वाले उत्तरकाशी पुलिस के 05 डिजिटल वॉलिंटियर यशपाल उभान, सुमन बडोनी, सुरेन्द्र कुमार, सुरजीत टोलिया व शिवम राणा को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

जनसंवाद कार्यक्रम में सी0ओ0 उत्तरकाशी अनुज कुमार, सी0ओ0 ऑपरेशन प्रशान्त कुमार, एसएचओ कोतवाली दिनेश कुमार, स्थानीय जनप्रतिनिधि, व्यापार मण्डल, टैक्सी/बस/ट्रक यूनियन सहित प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार बन्धु व अन्य पुलिस अधिकारी/कर्मचारी मौजूद रहे।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *