आरोग्य भारती के तत्वावधान में प्राणायाम प्रबोधन व अभ्यास का तीन दिवसीय कार्यक्रम संपन्न। आरोग्य भारती (मेरठ प्रान्त) के प्रान्तीय अध्यक्ष को शाल ओढ़ाकर किया सम्मानित

डॉ0 रणवीर सिंह वर्मा/सनसनी सुराग न्यूज जनपद शामली

आज दिनांक 03 अक्टूबर 2023 को राजकीय पशु चिकित्सालय कांधला के प्रांगण में आरोग्य भारती के तत्वावधान में प्राणायाम प्रबोधन व अभ्यास कार्यक्रम का आयोजन किया गया । जिसमें आरोग्य भारती (मेरठ प्रान्त) के प्रान्तीय अध्यक्ष इंo राम औतार तायल ने विभिन्न प्राणायाम जैसे सौम्य/ पूरक/कुम्भक प्राणायाम, कपालभाति प्राणायाम , अनुलोम विलोम प्राणायाम, भ्रामरी प्राणायाम , उदगीथ प्राणायाम व तीव्र भस्त्रिका प्राणायाम क्यों करें , कब करें , कैसे करें विषय पर विस्तार से चर्चा की व इन सभी प्राणायामों का अभ्यास कराया व कौन सा अभ्यास कितने समय करना है , बैठने की सही विधि बताई और अभ्यास भी कराया ।

 

 

 

पैर गरम , पेट नरम , सिर ठंडा ।
डॉक्टर को नहीं देना पड़ेगा चन्दा ।
कहावत तथा लेटकर पैर चलाने पर विस्तार से चर्चा की ।
कार्यक्रम में 25 पुरुषों ने भाग लिया ।

कार्यक्रम में खंड संघचालक माननीय रवि जैन जी व नगरकारवाह श्रीमान नीरज गुप्ता जी कार्यक्रम के संयोजक डॉ0 रणवीर सिंह वर्मा, गण शिक्षक श्री विजय कुमार जी,मुख्य शिक्षक श्री गौरव सैनी, पूर्व प्रधान नीरज मालिक, पूर्व सभासद संजय मित्तल व राजेंद्र वर्मा, शामली जिला पर्यावरण सह संयोजक नवीन मालिक, आचार्य राजेंद्र सिंह जी, नवनीत जैन, चरण सिंह सैनी, ब्रिजेश अग्रवाल, संजीव अग्रवाल,कैप्टन, पंकज यादव,विपिन चौहान,सुशील वशिष्ठ, शशि काकरान,अनुज सैनी।आदि विशेष सम्मानित सदस्यों की गरिमामयी उपस्थिति रही ।

 

 

 

 

कार्यक्रम के उपरांत खंड संघ चालक माननीय रवि जैन जी, नगर कारवां श्री नीरज गुप्ता जी, मुख्य शिक्षक गौरव सैनी जी,गण शिक्षक श्री विजय कुमार जी,कार्यक्रम के संयोजक डॉ0 रणवीर सिंह वर्मा जी,पूर्व सभासद राजेंद्र वर्मा जी,राजीव शर्मा जी,शशि काकरान जी सहित अन्य सदस्यों ने इं0 राम औतार तायल जी को शाल उड़ाकर उनका अभिनंदन किया

 

 

 

*मुख्य अतिथि आदरणीय इं0 राम औतार तायल जी का परिचय*

*मंजिल उन्हीं को मिलती है, जिनके सपनों में जान होती है, पंख से कुछ नहीं होता, हौसलों से उड़ान होती है*

*आप सभी को जानकर अवश्य ही आश्चर्य होगा की जब कोई भी व्यक्ति अपने सेवाकाल से रिटायरमेंट लेता है तो वह अपने आप को आराम परस्त समझ लेता है और यही कहता है कि मैंने जीवन में बहुत कुछ कार्य किया है अब मुझे कुछ करने की जरूरत नहीं है। अब मैं ऐश के साथ की जिंदगी जीना चाहता हूं। मगर इसके विपरीत आदरणीय इंजीनियर राम औतार तायल जी ने जो सिविल इंजीनियर के ग्रेड वन ऑफिसर पद से सेवानिवृत हुए तो उन्होंने कुछ अलग ही सोचा और योग में पोस्ट ग्रेजुएशन ( MA) किया और अब आरोग्य भारती (मेरठ प्रांत) के अध्यक्ष पद पर रहते हुए आस पास के जनपद या अन्य प्रांत के लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करते हैं। अब जबकि उनकी उम्र 71 वर्ष की हो चुकी है तो उनकी योग में पीएचडी करने की भी तैयारी चल रही है जिसके लिए वे अब संस्कृत भाषा सीख रहे हैं।*
*हमें गर्व है आप पर*
*समाज के लिए आप एक उदाहरण बने हो।*

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *